Bala Ji Ke Naam ke Khajane Lyrics – Bhakti Sangeet

बाला जी के नाम के ख़ज़ाने

ले जा  बाला जी के नाम के खजाने ॥
नसीबा तेरा जाग जाएगा ॥
क्या सोचता है दिल में दीवाने ,
नसीबा तेरा जाग जाएगा _ _ _ ॥

जिस घर में मेरे ,  बाला जी का वास है ॥
सुखों का वहां  पर , होता प्रकाश हैं ॥
आजा बाला जी की  , जोत जगाले नसीबा  _ _ _ ॥

दिल से जो बाला जी , का नाम ध्याते है ॥
उसके के तो , सारे पाप मिट जाते हैं ॥
आजा तन – मन , अपना रंगाले नसीबा तेरा _ _ _ ॥

बाला जी के चरणों , में झुकता जमाना है ॥
‘ संजीव ‘ भी बना  , इस दर का दीवाना है ॥
आजा अपना सितारा  , चमकाले नसीबा तेरा _ _ _ ॥