कंकर कंकर से मैं पूछूं शंकर मेरा कहाँ है Kankar Kankar se Mai Poochhoon Shankar Mera Kahan Hai – Bhakti Sangeet

 

कंकर कंकर से मैं पूछूं शंकर मेरा कहाँ है Kankar Kankar se Mai Poochhoon Shankar Mera Kahan Hai

कंकर कंकर से मैं पूछूं, शंकर मेरा कहाँ है, कोई बताये |

शिखर शिखर से पूंछ रही हूँ, शंकर मेरा कहाँ है |
गौरी वर, गंगाधर हर हर, शंकर मेरा कहाँ है ||

ओ, नील गगन की चन्द्रकला, तू रहती उन के पास भला |
मेरा कहाँ गया प्रीतम बतला, मेरी बिगड़ी कौन बनाये  ||

हौले हौले चल फनिधर, मै भी तेरे संग चलूँ |
तू लिपटेगा गले स्वामी के, मै चरणों मे रह लूँ , मेरा धन्य जीवन हो जाए ||

Random Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published.

*
*