कट्टे जांदे ने दुःख माँ दे दरबार ते Kate Jande ne Dukh Maa de Darbaar Te – Bhakti Sangeet

कट्टे जांदे ने दुःख माँ दे दरबार ते Kate Jande ne Dukh Maa de Darbaar Te





कट्टे जांदे ने दुःख माँ दे दरबार ते
जिन्ना प्रीती सच्ची लायी, ओह दाती ने तारते

सारी दुनिया दे नालो इस दर दी शान निराली है
दर विच वसदी माँ मेरी जो दुनिया दी रखवाली है
सदा खजाने खुल्ले रेंदे इस सच्ची सरकार दे

सब तो पहला लक्खा ने इस दर नु सजदा किता है
करे दीदार भवानी दा तू नाम पायल पीता है
नहीं लभना कोई इस दर वरगा इस सारे संसार दे

जो इस दर नु नहीं मन्दा, ओह आके ऐथे वेख लवे
जो दुनिया तो नहीं मिल सकदा, मांग के ऐथो वेख ले
तहियो सारी दुनिया कहंदी रज के सानु प्यार दे

एहो द्वारा माई दा जित्थे जाती डा कोई फरक नहीं
लखां तार दित्ते इस माँ ने मांग के तू वी वेख लवीं
दर ते आया बच्चा कहंदा जनमा दा सानु प्यार दे

Random Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published.

*
*