मेरे घर के आगे साईनाथ Mere Ghar ke Aage Sainaath – Lyrics – Bhakti Sangeet

 

मेरे घर के आगे साईनाथ Mere Ghar ke Aage Sainaath





मेरे घर के आगे साईनाथ तेरा मन्दिर बन जाए
जब खिड़की खोलूँ तो तेरा दर्शन हो जाए

जब आरती हो तेरी मुझे घंटी सुनाई दे
मुझे रोज़ सवेरे साईनाथ तेरी सूरत दिखाई दे
जब भजन करे मिलकर रास कानों में घुलजाये
जब खिड़की खोलूँ तो…

आते जाते बाबा तुमको मै प्रणाम करूँ
जो मेरे लायक हो कुछ ऐसा काम करूँ
तेरी सेवा करने से मेरी किस्मत खुल जाए
जब खिड़की खोलूँ तो…

नज़दीक रहेंगे तो आना जाना होगा
हम भक्तो का बाबा मिलना जुलना होगा
सब साथ रहे बाबा, जल्दी वो दिन आये
जब खिड़की खोलूँ तो…



Random Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published.

*
*